RhymesLyrics
Aai Diwali

Aai Diwali | आई दिवाली

दीपावली का त्यौहार हिन्दू धर्म का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण त्यौहार है, ‘आई दिवाली’ बालगीत बच्चों को प्रकाश के इसी पर्व के साथ जोड़ता है। दीपावली का अर्थ होता है दीपों की आवली अर्थात दीपों की पंक्तियां और ढेर सारी दीपों की पंक्तियों को ही दीपावली कहा जाता है।

दीपावली का पर्व सामूहिक व व्यक्तिगत दोनों तरह से मनाया जाने वाला ऐसा विशिष्ट पर्व है जो धार्मिक,सांस्कृतिक व सामाजिक सभी प्रकार की विशिष्टता रखता है। अंधकार पर प्रकाश की विजय का यह पर्व समाज में उल्लास, भाईचारे व प्रेम का संदेश फैलाता है।

दीपावली के दिन भगवान श्री राम जी लंका विजय कर, अपना चौदह वर्ष का वनवास पूरा कर अपने राज्य अयोध्या वापस आए थे जिसकी खुशी में अयोध्यावासियों ने अपने घरों में घी के दीपक जलाए थे|

इस दिन को लक्ष्मी माता के आगमन का दिन भी कहा जाता है इसीलिए धन की देवी लक्ष्मी माँ और गणेश जी की भी पूजा की जाती है।

स्कूलों में भी इस पर्व पर मेले, रंगोली तथा अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। शिक्षक विद्यार्थियों को पटाखों और आतिशबाजी को लेकर सावधानी बरतने की सलाह देने के साथ ही दीपावली पूजन की विधि और दीपावली से संबंधित रीति रिवाज आदि की जानकारी भी देते है।

बुराई पर अच्छाई या अंधकार पर प्रकाश की विजय का यह पर्व समाज में उल्लास, भाईचारे व प्रेम का संदेश फैलाता है।

 

आई दिवाली बालगीत के बोल

 

आई दिवाली, आई दिवाली,

आई दिवाली रे

दीप जलाओ, खुशी मनाओ

आई दिवाली रे

खूब चले फुलझड़ी पटाखे,

आई दिवाली रे

सबको बाँटो खूब मिठाई,

आई दिवाली रे

 

‘Aai Diwali’ Lyrics in English

 

Aai Diwali, Aai Diwali,
Aai Diwali re.
Deep jalao, khushi manao,
Aai Diwali re.
Khoob chale phuljhadi patakhe,
Aai Diwali re.
Sabko bantto khoob mithai
Aai Diwali re.

 

‘Aai Diwali’ English Translation

 

Diwali came, Diwali came,

Diwali came

Light the lamp, cheer

Diwali came

Sparkle crackers,

Diwali came

Share with everyone a lot of sweets,

Diwali came

 

'आई दिवाली' पर आधारित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

उत्तर : दिवाली कार्तिक मास की अमावस्या को मनाई जाती है।

उत्तर : दिवाली का त्यौहार बड़ी ही धूम-धाम से मनाया जाता है, इस दिन सभी संध्या के समय लक्ष्मी जी की पूजा करते है और फिर पूजन के उपरांत दिये जलाकर रौशनी करते हैं, बच्चें पूजा के उपरांत पटाके जलाते हैं।

उत्तर : दिवाली के दिन धन की देवी लक्ष्मी माँ और गणेश जी का पूजन किया जाता है।

उत्तर : दिवाली के दिन लक्ष्मी माँ और गणेश जी का पूजन संध्या के समय किया जाता है।

उत्तर : दीपावली के दिन भगवान श्री राम जी लंका विजय कर, अपना चौदह वर्ष का वनवास पूरा कर अपने राज्य अयोध्या वापस आए थे जिसकी खुशी में अयोध्यावासियों ने अपने घरों में घी के दीपक जलाए थे तभी से दिवाली का त्यौहार मनाया जाता है।

उत्तर : दिवाली के दिन रौशनी करने के लिए चारों तरफ दिये जलाये जाते है इसलिए दिवाली को रौशनी का त्यौहार कहा जाता है।

उत्तर : दिवाली बच्चों का प्रिय त्यौहार है क्योंकि बच्चों को पटाखे चलाना व मिठाइयाँ खाना बहुत पसंद होता हैं।

Frequently asked questions (FAQ's) based on 'Aai Diwali'

Answer : Diwali is celebrated on the new moon day of Kartik month.

Answer : The festival of Diwali is celebrated with great pomp, on this day everyone worships Lakshmi ji during the evening and then lights the lamps after the worship, the children burn the fireworks after the worship.

Answer : Goddess Lakshmi and Goddess Ganesh are worshiped on the day of Diwali.

Answer : Lakshmi Maa and Ganesh ji are worshiped during the evening on the day of Diwali.

Answer : On the day of Diwali, Lord Shri Ram ji returned to his kingdom Ayodhya after conquering Lanka and completing his fourteen years of exile. In whose joy Ayodhya residents lit lamps of ghee in their homes, since then the festival of Diwali is celebrated.

Answer : To light up on the day of Diwali lamps are lit all around, so Diwali is called the festival of light.

Answer : Diwali is the favorite festival of children because children love firecrackers and eat sweets.

Related links

Other popular rhymes

Other related keywords and search's

Spread the education