RhymesLyrics
De Di Humme Azadi

De Di Hame Azadi | दे दी हमें आज़ादी

महात्मा गांधी जी एक युग पुरुष थे जिनके प्रति पूरा विश्व आज भी आदर सम्मान की भावना रखता है। गांधीजी ने अंग्रेजों से देशवासियो के संघर्ष को प्रकट करने के लिए सत्याग्रह को अपना प्रमुख अस्त्र बनाया, वे अपनी सादगी भरी जिंदगी और उच्च विचारो के कारण अनेक लोगों के प्रेरणास्त्रोत बने।

देश की आज़ादी के 7 साल बाद सन 1954 में प्रस्तुत डायरेक्टर सत्यन बोस की फ़िल्म जागृति का गीत ‘दे दी हमें आज़ादी बच्चों को अपने राष्ट्रपिता मोहनदास करमचंद गांधी की भारत को आजाद करने के लिए निभाई गयी महत्वपूर्ण भूमिका से अवगत कराता है।

गाँधी जी के जीवन से बच्चों को यह प्रेरणा मिलती हे की हमे हमेशा सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलना चाहिए। गांधीजी ने प्रेम और सदभाव की भावना से भारतवर्ष की जनता के हृदय पर राज किया जिससे लोग उन्हें प्यार से बापू कहकर भी बुलाते थे।

 

दे दी हमें आज़ादी बालगीत के बोल

 

दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल

साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
आंधी में भी जलती रही गांधी तेरी मशाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम


धरती पे लड़ी तूने, अजब ढंग की लड़ाई
दागी न कहीं तोप, ना बन्दूक चलाई
दुश्मन के किले पर भी, ना की तूने चढ़ाई
वाह रे फ़कीर खूब करामात दिखाई
चुटकी में दुश्मनों को दिया देश से निकाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

शतरंज बिछाकर यहाँ बैठा था ज़माना
लगता था के मुश्किल है फिरंगी को हराना
टक्कर थी बड़े ज़ोर की दुश्मन भी था ताना
पर तू भी था बापू बड़ा उस्ताद पुराना
मारा वो कस के दाँव के उलटी सभी की चाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम


जब जब तेरा बिगुल बजा जवान चल पड़े
मज़दूर चल पड़े थे और किसान चल पड़े
हिंदू और मुसलमान, सिख पठान चल पड़े
कदमों पे तेरे कोटि कोटि प्राण चल पड़े
फूलों की सेज छोड़ के, दौड़े जवाहर लाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

  मन में थी अहिंसा की लगन तन पे लंगोटी
लाखों में घूमता था लिए सत्य की सोटी
वैसे तो देखने में थी हस्ती तेरी छोटी
लेकिन तुझपे झुकती थी हिमालय की चोटी
दुनिया में तू बेजोड़ था इन्सान बेमिसाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

जग में कोई जिया है तो बापू तू ही जिया
तूने वतन की राह पे सब कुछ लूटा दिया
माँगा ना कोई तख्त ना कोई ताज भी लिया
अमृत दिया सभी को, मगर खुद ज़हर पिया
जिस दिन तेरी चिता जली, रोया था महाकाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड़ग बिना ढाल
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल
रघुपति राघव राजा राम

  

‘De Di Hame Azadi’ Lyrics in English

 

De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Andhi main bhi jalati rahi gandhi teri mashal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

Dharati pe ladi tune ajab dhang ki ladai
Dagi na kahi top na banduk chalai
Dushman ke kile par bhi na ki tune chadai
Waah re fakir khub karamat deikhai
Chutki main dushmano ko diya desh se nikal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

Shataranj bitha kar yaha baitha thaa zamanaa
Lagata tha mushkil hai firangi ko haranaa
Takar thi bade zor ki dushman bhi tha tanaa
Par tu bhi tha bapuu  bada ustad puranaa
Mara wo kas ke dav ke ulati sabhi ki chal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

Jab jab tera bigul baja jawan chal pade
Mazadur chal  pade the aur kisan chal pade
Hindu aur musalaman, sikh pathan chal pade
Kadmo me teri koti koti pran chal pade
Phulo ki sej chodke daude javaharalal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

Man main thi ahinsa ki lagan tan pe langoti
Lakho main ghumta tha liye satya kii soti
Waise to dekhane main thi hasti teri choti
Lekin tujhe jhukatii thii himaalay kii bhii choTii
Duniya main tu bejod tha insaan bemisal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

Jag main koi jiya hai to bapu tu hi jiyaa
Tune watan ki rah main sab kuch luta diyaa
Manga na koi takht na koi taaj bhi liyaa
Amrut diyaa sabhi ko magar khud zahar piyaa
Jis din teri chita jalii, roya tha mahakal

Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
De di hame azadi bina khadag bina dhal
Sabaramati ke sant tune kar diya kamal
Raghupati raaghav raja ram

 

‘De Di Hame Aazadi’ English Translation

 

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gandhi’s torch continues to burn in the storm

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram

 

You fought on earth, strange fight

Cannon not tainted, nor fired

Even on the enemy’s fort, neither did you climb

Wow you did a good job

Gave enemies out of the country in a pinch

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram

 

The world was sitting here by laying chess

It was difficult to beat British

The collision was very loud enemy was also taunt

But you were also great Bapu old master

Your bet has turned everyone’s way

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram

 

All the young men walked on your voice

The workers walked and the farmers walked

Hindus and Muslims, Sikhs and Pathans walked

Countless souls walked in your footsteps

Leaving a bed of flowers, Jawahar Lal ran

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram

 

Non-violence in mind was loincloth on body

Spread of truth for millions

By the way, your personality was small

But the top of the Himalayas bowed down to you

You were unmatched in the world

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram

 

If someone lives in the world, then you live Bapu

You gave everything on your way to the country

You did not ask for any throne or any crown

Gave amrit to everyone, but drank poison himself

The day your funeral pyre was lit, Mahakaal was cried

Saint of Sabarmati, you did amazing

Gave us freedom without shield, without shield

Saint of Sabarmati, you did amazing

Raghupati Raghav Raja Ram