RhymesLyrics

Educational Rhymes in Hindi | शिक्षाप्रद

The National Anthem of India
The National Anthem of India (राष्ट्रगान)

The National Anthem of India : राष्ट्रगान “जन-गण-मन” मूल रूप से बँगला साहित्य के शिरोमणि कवि गुरुदेव रवींद्र नाथ ठाकुर (रवीन्द्रनाथ टगोर) द्वारा रचित पांच छंदों की कविता “Bharat Bhagyo Bidhata”, या “Dispenser of India’s destiny”, के पहले छंद से लिया गया है।

The National Song of India
The National Song of India (राष्ट्रगीत)

The National Song of India : राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम्’ की रचना बंगाल के महान साहित्यकार श्री बंकिम चन्द्र चट्टोपाध्याय द्वारा सन् 1876 में की गई थी, लेकिन इसका सर्वप्रथम समावेश उन्होंने अपने सुप्रसिद्ध उपन्यास 'आनंदमठ' में सन् 1880 में किया था। 'आनंदमठ' उपन्यास के माध्यम से प्रचलित हुए इस गीत का स्थान अपने देश को मातृभूमि मानने की भावना को प्रज्वलित करने वाले गीतों में सबसे पहला है।

Akhbar
Akhbar | अख़बार

Akhbar : बालगीत ‘अख़बार’ बच्चों को समाचार-पत्र से अवगत कराता है और उससे मिलने वाले लाभों और जानकारियों के बारे में जानने को प्रोत्साहित करता है।बालगीत ‘अख़बार’ बच्चों को प्रेरित करता है कि यदि हम प्रतिदिन नियमित रुप से अख़बार पढ़ने की आदत बनाते है तो यह हमारे लिए काफी लाभदायक हो सकता है। यह बच्चों में पढ़ने की आदत को विकसित करता है, उनके प्रभाव में सुधार करता है और उन्हें बाहर के बारे में सभी जानकारी उपलब्ध कराता है।

Aao Bachcho Tumhe Dikhaye
Aao Bachcho Tumhe Dikhaye | आओ बच्चों तुम्हें दिखाएं

Aao Bachcho Tumhe Dikhaye : देश की आज़ादी के 7 साल बाद सन 1954 में प्रस्तुत डायरेक्टर सत्यन बोस की फ़िल्म 'जागृति' का गीत 'आओ बच्चों तुम्हें दिखाएं झांकी हिंदुस्तान की' बच्चों को अपने राष्ट्र की अनुपम बलिदान गाथा से अवगत कराता है। इस गीत में बड़े ही उत्कृष्ट तरीके से देश के हर कोने से जुड़ी देशभक्ति की घटनाओ और उनसे जुड़े देशभक्तों के बलिदानों को बच्चो के प्रति पेश किया गया है।

Railgadi
Railgadi | रेलगाड़ी

Railgadi : ‘रेलगाड़ी’ एक प्रसिद्ध हिंदी बालगीत है जो छोटे बच्चों को रेलगाड़ी (ट्रेन) के बारे में जानकारी देता है। हम सब में शायद ही ऐसा कोई होगा जिसने रेल यात्रा न की हो, छुक-छुक करती रेलगाड़ी बच्चे, बड़े, और बूढ़े सभी को खूब लुभाती है। ‘रेलगाड़ी’ बालगीत के माध्यम से बच्चे एक-दूसरे के साथ जुड़कर शोर मचाते हुए खेल-खेल में ही रेलगाड़ी की सरचना एवं उसके चलने के तरीके को सीख लेते है। उन्हें पता चलता है कि कैसे इंजन आगे से सब डिब्बों को खींचता है और सब लोगों को बिठाकर रेलगाड़ी बड़ी शान से आवाज करती पटरी पर आगे बढ़ती है।

Garmi Aayi
Garmi Aayi | गर्मी आई

Garmi Aayi : बालगीत ‘गर्मी आई’ छोटे बच्चों को गर्मी के मौसम में पंखे की उपयोगिता के बारे में बताता है। सभी घरों में पंखे अवश्य होते हैं, पंखा हम सभी को गर्मी से राहत प्रदान करता है।पंखे का उपयोग करने से घर में मच्छर भी कम आते है, कुछ पंखे ऐसे भी होते है जो घर की अशुद्ध हवा को बाहर निकालने का काम करते है जिससे घर का वातावरण साफ़ रहता है।

De Di Humme Azadi
De Di Hame Azadi | दे दी हमें आज़ादी

De Di Hame Azadi : महात्मा गांधी जी एक युग पुरुष थे जिनके प्रति पूरा विश्व आज भी आदर सम्मान की भावना रखता है। गांधीजी ने अंग्रेजों से देशवासियो के संघर्ष को प्रकट करने के लिए सत्याग्रह को अपना प्रमुख अस्त्र बनाया, वे अपनी सादगी भरी जिंदगी और उच्च विचारो के कारण अनेक लोगों के प्रेरणास्त्रोत बने। डायरेक्टर सत्यन बोस की फ़िल्म 'जागृति' का गीत ‘दे दी हमें आज़ादी' बच्चों को अपने राष्ट्रपिता मोहनदास करमचंद गांधी की भारत को आजाद करने के लिए निभाई गयी महत्वपूर्ण भूमिका से अवगत कराता है।

Machhali Rani
Machhali Rani | मछली रानी

Machhali Rani : ‘मछली रानी’ एक बहुत प्रसिद्ध हिंदी बालगीत है जिसे छोटे बच्चे गाना बहुत पसंद करते हैं। इसके बोल इतने सरल हैं कि बच्चे आसानी से इस गीत को याद कर सकते हैं और अपने मित्रों को भी सिखा सकते हैं। वे अपने हाथों को एक दूसरे पर रखकर उनसे मछली जैसी आकर्ति बनाकर आपस में खेल सकते हैं, साथ ही साथ वे गीत मैं प्रस्तुत की गईं बाकी संवेंद्नाओ को भी अपने इशारों द्वारा दर्शा सकते हैं।

Mummy Ki Roti Gol Gol
Mummy Ki Roti Gol Gol | मम्मी की रोटी गोल गोल

Mummy Ki Roti Gol Gol : ‘मम्मी की रोटी गोल गोल’ बालगीत में पर्युक्त सभी वस्तुओं के संज्ञान से छोटे बच्चों को गोल आकर्तियों का आभास आसानी से हो जाता है।इस गीत का प्रयोग ज्यादातर स्कूलों में छोटे बच्चों को एक-साथ मिलकर गाने और गोल आकर्तियों के बारे में सिखाने के लिए किया जाता है जो इस गीत के सरल बोलो से बड़ी ही आसानी से हो जाता है।